10वीं के बाद क्या करें, कौन सा सब्जेक्ट लेना चाहिए? भाग – 4 (What to do after 10th, which subject should be taken? Part-4)

Hello Friends Masterji Tips मे आपका स्वागत है आज इस आर्टिकल में हम बात करेंगे कैसे दसवीं के बाद सबसे बढिया विषय कौनसा है? 10वीं के बाद क्या करियर विकल्प मौजूद हैं? यदि आपने भी 10वीं पास की हैं या फिर 10वीं कक्षा में पढ रहे हैं. तब आपके मन में ये सवाल जरूर आते होंग़े? और हम आपको विश्वास दिलाते हैं कि ऐसा सोचने वाले आप अकेले नहीं हैं. इसलिए आपकी सुविधा के लिए हमने इसे कई छोटे-छोटे भागों में बांट दिया हैं.

10वीं के बाद सांइस लेना

सांइस विषय को होशियार विद्यार्थीयों की विषय समझा जाता हैं. और जिन विद्यार्थीयों के 60 प्रतिशत के ऊपर अंक आते हैं. उन्हे इस विज्ञान संकाय लेने की सलाह दी जाती हैं. अगर आपकी इस विषय में रुचि हैं और स्कूल आपको कम नम्बर आने के बाद भी या आपके स्कूल में न्यूनतम अंक लाने की बाध्यता नही है. तब आप ये विषय ले सकते हैं.

विज्ञान संकाय में विषयों को दो वर्गों में बांटा गया हैं.

  1. गणित
  2. जीवविज्ञान

गणित (Mathematics)

गणित वर्ग में गणित विषय पढाया जाता हैं. और साथ में भौतिक शास्त्र, रसायन शास्त्र भी पढनी होती हैं.

जीवविज्ञान (Biology)

जीवविज्ञान में मानव शारीर, वनस्पति, जीव-जंतुओं के बारे में पढाया जाता हैं. इस विषय के साथ भी भौतिक शास्त्र और रसायन शास्त्र को पढना पडता हैं.

सांइस विषय में करियर विकल्प

यदि आप डॉक्टर्स, इंजिनियर, गणितज्ञ, वैज्ञानिक, आविष्कारकबनना चाहते हैं. तब आपके लिए ये विषय सही चुनाव हैं. इसके अलावा सरकारी नौकरीयों में भी आपको बहुत अवसर होते हैं. और कुछ भर्तीयाँ तो केवल विज्ञान विषय के छात्रों के लिए ही होती हैं. सांइस चुंकि वरीयता में श्रेष्ठ है. इसलिए आपको संकाय बदलने की भी इजाजत होती है और आप कला संकाय तथा कॉमर्स संकाय में जा सकते हैं.

10वीं के बाद डिप्लोमा कोर्स

यदि आप 10वीं के बाद आगे पढाई नही करना चाहते हैं. और दो तीन साल बाद कंपनियों में काम करना चाहते हैं. तब आप Polytechnic Diploma में एडमिशन ले सकते हैं.

इस डिप्लोमा के माध्यम से आप कई क्षेत्रों में काम करने का प्रशिक्षण ले सकते हैं. और उतीर्ण करने के बाद किसी भी निजी या सार्वजनिक कंपनि में काम करने के योग्य हो जाते हैं.

Polytechnic Diploma धारकों को भारतीय रेल्वे में भी प्राथमिकता दी जाती हैं. इसलिए सरकारी नौकरी के दरवाजे भी आपके लिए खुले रहते हैं.


10वीं के बाद ITI करना

ITI – Industrial Training Institutes यानि औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान के द्वारा इस कोर्स को करवाया जाता हैं. यह कोर्स Polytechnic Diploma का छोटा भाई है. ये संस्थाए हर शहर, कस्बे में होती हैं. और सरकारी तथा निजी दोनों प्रकार की होती हैं. इसलिए कोशिश करें कि आप किसी सरकारी ITI संस्थान में ही प्रवेश लेकर ही प्रशिक्षण प्राप्त करें. ITI Course की अवधी 6 माह से लेकर 2 साल तक होती हैं. यदि आप 2 साल का ITI Course कर लेते हैं. तब आप 12वीं कक्षा पास भी माने जाते हैं.

इसलिए ये कोर्स आपको दो फायदे देता है.

10वीं के बाद सरकारी नौकरी

10वीं पास विद्यार्थीयों के लिए सरकारी नौकरी के दरवाजे भी खुले हुए हैं. मगर आपको अधिकतर चतुर्थ श्रेणी (D Grade) की नौकरी के काबिल ही समझा जाता हैं. यदि आप 10वीं के बाद पढाई नहीं कर सकते हैं. या करना नहीं चाहते हैं. तब आप सरकारी नौकरी में भी हाथ आजमा सकते हैं.


10वीं के बाद प्रोफेशनल कोर्स करना

10वीं के बाद आप बहुत सारे प्रोफेशनल कोर्स के योग्य भी हो जाते हैं. आप इन कोर्सों के माध्यम से भी अपने आपको प्रशिक्षण दे सकते हैं और प्राईवेट नौकरी कर सकते हैं. या फिर खुद का बिजनेस भी शुरु कर सकते हैं.

Friends अगर आपको यह Article पसंद आया हो तो कृपया इसे अपने Friends के साथ share करे और हमारे आने वाले सभी Articleको सीधे अपने ईमेल बॉक्स में पाने के लिए हमें free subscribe करे. अगर आपका कोई सवाल हो तो कृपया comments करे..

Leave a Reply

%d bloggers like this: